Loading Events

जय जिनेंद्र 🙏 जय गुरु राम

नरक गति,तिर्यंच गति
मनुष्य गति और देवगति

हम कब इन 4 गतियों का चक्कर लगाते रहेंगे और ना जाने कब पंचम गति मोक्ष को प्राप्त करेंगें।

क्या कोई रास्ता है?
हाँ जरुर है,
समभावों मे रमण करके..

पर कैसे?
तो जानने के लिए
हो जाईये तैयार,
क्योंकि आ रहा है

मोक्ष की चाह, चुन लो राह

इस बार…
🎲🎲🎲🎲
3rd Offline Activity

Team SMF